July 4, 2018

फिटनेस का जुनून ऐसा कि रायपुर के शरत लोगों को अवेयर करने निकल पड़े बाइक से देश भ्रमण पर

“रायपुर के 60 वर्षीय शरत बाइक से 16 हजार किमी का सफर तय कर पहुंचे राजधानी। 18 दिन में तय करना है 28 हजार किलोमीटर का सफर, अब तक कर चुके हैं 20 राज्यों का सफर तय…”

जानकर हैरानी भी होगी और फक्र भी की 60 साल की उम्र में जब इंसान रिटायर होकर घर की बालकनी में अखबार के साथ चाय की चुस्कियां लेना पसंद करता है, ऐसे में रायपुर के 60 वर्षीय शरत का जोश कुछ कर गुज़रने को बेचैन है और यही वजह है कि 60 साल के शरत हिमाचल से 16 किलोमीटर का सफर पार करते हुए राजधानी पहुंचे। राजधानी पहुंचने पर उनके चेहरे पर वही जोश और जुनून नजर आ रहा था जो युवाओं में होता है। शरत कहते हैं, नौकरी करने के दौरान ही जब लोगों को बिना हेलमेट के रोड एक्सिडेंट में मरते देखता था  तो दुख होता था कि मैं ऐसा क्या करू कि लोग अवेयर हो हेलमेट पहनें, लेकिन उस समय कुछ कर नहीं पाया। बस वहीं कुछ करने की ललक ने आज मुझे देश के भ्रमण पर निकालने के लिए प्रेरित किया। लोग कहते हैं आपकी अब उम्र हो गई है, अब आप आराम करो। मैं कहता हूं लोग 60 साल में भी फिट रह सकते हैं। इसके लिए बस 24 घंटे में से सिर्फ  1 घंटा हर दिन देना होगा। इसके बाद वे 60 साल क्या, जब तक जिंदा रहेंगे, तब तक फिट रहेंगे।

37 सालों तक की  पत्रकारिता,  जागरुक करने निकले देश भ्रमण पर

शरत ने  अवेयनेस  वर्क की चर्चा करते हुए बताया कि यात्रा की शुरुआत दिल्ली से हुई है और पूरे देश का भ्रमण करने के बाद दिल्ली में ही यात्रा खत्म होगी।  वे अपने सफर के दौरान  लोगों को फिटनेस , बाइक स्पीड से न चलाने, बिना हेलमेट ड्राइव न करने के लिए जागरूक कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि देश में हर साल लाखों की संख्या में लोग सड़क हादसे में जान गंवाते हैं। पिछले साल सर्वाधिक 18 से 35 वर्ष तक के लोगों की मौत हुई है। उन्होंने कहा कि तेज रफ्तार बाइक से होने वाली मौतों को देखकर दुख होता है। नौकरी से रिटायर हो चुका हूं। अब जो भी समय मिल रहा है। वह समाज को देने में लगा हूं, ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों में बदलाव आ सके।

तरह-तरह की फैल रही है बीमारियां

शरत ने  कहा कि देश में काफी तेजी से अलग-अलग तरह की बीमारियां फैल रही हैं। अगर लोग अपनी सेहत को लेकर जागरुक नहीं हुए, तो आने वाले समय में देश बीमारियों का घर हो जाएगा। शुगर, हार्ट अटैक से लोगों की अधिक मौतें हो रही हैं। उन्होंने कहा कि अगर लोग 24 घंटे में से सिर्फ एक घंटा सेहत पर दें, तो यह बीमारियां कभी नहीं होंगी।

28 हजार किमी सफर का लक्ष्य

शरत रायपुर में दो दिन रूकेंगे फिर तीर्थगढ़, दंतेवाड़ा के लिए रवाना होंगे। इसके बाद आंध्रप्रदेश रवाना होंगे। उन्होंने अभी तक हरियाणा, उत्तर प्रदेश, बिहार, ओडिशा सहित 20 राज्यों में 16300 किमी का सफर तय कर लिया है। उन्होंने अपने सामने 28000 किमी का सफर 180 दिन में तय करने का लक्ष्य रखा है।

संकट में पत्रकारिता का भविष्य

शरत मूल रूप से पत्रकार हैं। उन्होंने पत्रकारिता की शुरुआत 1982 में एक मैग्जीन से की थी। शरत देश के कई प्रतिष्ठित अखबारों में काम करने के बाद दिल्ली टाइम्स ऑफ  इंडिया से रिटायर हुए। उन्होंने कहा कि पत्रकारिता समय के साथ काफी बदल गई है। पत्रकारिता का भविष्य संकट में है। अखबारों में छपने वाले पेड न्यूज को लेकर अब पाठक जागरुक हो गए हैं।

और स्टोरीज़ पढ़ें
से...

इससे जुड़ी स्टोरीज़

No items found.
© 2018 YourStory Media Pvt. Ltd. - All Rights Reserved
In partnership with Dept. of Public Relations, Govt. of Chhattisgarh