September 18, 2018

छत्तीसगढ़ में 'आयुष्मान भारत - जन आरोग्य योजना' से 40 लाख परिवारों को फायदा पहुँचाने की तैयारी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सर्वोच्च प्राथमिकता वाली आयुष्मान भारत-जन आरोग्य योजना का पायलट प्रोजेक्ट छत्तीसगढ़ के 1033 अस्पतालों में शुरू हो गयाहै। इस योजना में राज्य के 608 सरकारी और 325 प्राइवेट अस्पतालों को मिलाकर 933 अस्पतालों को शामिल किया गया है।

राज्य के लगभग 40 लाख परिवारोंको प्रधानमंत्री की इस योजना में शामिल करने की तैयारी की गई है। इन परिवारों का कोई सदस्य अगर किसी गंभीर बीमारी से पीड़ित होता है, तो योजना केतहत उसे इलाज के लिए पांच लाख रूपए तक कैशलेस सहायता मिल सकेगी। पात्रता रखने वाले परिवारों को आयुष्मान कार्ड जारी किए जा रहे हैं। मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह ने इस पायलट प्रोजेक्ट की सफलता के लिए अपनी शुभकामनाएं दी हैं और प्रदेशवासियों से योजना का लाभ उठाने की अपील की है। स्वास्थ्य मंत्रीअजय चन्द्राकर ने विभागीय अधिकारियों को पायलट प्रोजेक्ट की नियमित समीक्षा करने के निर्देश दिए हैं। स्वास्थ्य संचालनालय के आयुक्त आर. प्रसन्ना नेबताया कि पायलट प्रोजेक्ट में 150 से ज्यादा प्रकरण इलाज के लिए अस्पतालों को भेजे गए और मरीजों को इसका लाभ दिलाया गया।

उन्होंने बताया कियोजना का सॉफ्टवेयर नया होने के कारण इसमें तकनीकी दिक्कतों के निराकरण के लिए नई दिल्ली से विशेषज्ञों की टीम कल 17 सितम्बर को रायपुर आएगी।स्वास्थ्य संचालनालय के आयुक्त ने यह भी बताया कि आम जनता को प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना की जानकारी आसानी से मिल सके, इसके लिए टोल फ्रीनम्बर 104 पर सम्पर्क किया जा सकता है। उन्होंने बताया कि इस टोल फ्री नम्बर पर एक दिन में 245 लोगों ने पायलट प्रोजेक्ट के बारे में जानकारी ली है।आयुष्मान भारत-जन आरोग्य योजना के तहत मरीज अपने पूर्व में जारी स्मार्ट कार्ड, आयुष्मान कार्ड, आधार कार्ड और राशन कार्ड लेकर किसी भी पंजीकृतअस्पताल में इलाज की सुविधा प्राप्त कर सकते हैं। इलाज के दौरान किसी भी प्रकार की असुविधा होने पर मरीज अस्पताल में आयुष मित्र से मिलकर अपनीसमस्या का निराकरण करवा सकते हैं। गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने स्वतंत्रता दिवस पर देशवासियों को आयुष्मान भारत के नाम से एक नयीयोजना का का तोहफा दिया था।

इस योजना के तहत आर्थिक रूप से पिछड़े परिवार को 5 लाख तक के मुफ्त ईलाज की सौगात दी। इस योजना के तहतपंजीकृत अस्पतालों में परिवार के सदस्यों का 5 लाख रुपए तक का मुफ्त इलाज का लाभ मिलेगा। उनके अस्पताल में भर्ती होने से लेकर आने-जाने का खर्च भीइस योजना तहत शामिल होना। लाभार्थी परिवार को इलाज के लिए स्मार्ट कार्ड दिया जाएगा, जिसमें सारी जानकारी निहित होगी। इस योजना से न केवलगरीबों को स्वास्थ्य बीमा मिलेगा बल्कि रोजगार के कई मौके पैदा होंगे। इस योजना तहत परिवार के महिला-पुरुष, बच्चे-बूढे सब इसका लाभ उठा सकते हैं।

योजना के लिए उम्र की कोई सीमा नहीं है। इस सरकारी योजना के तहत देश के 10 करोड़ परिवारों को 5 लाख रुपए का हेल्थ बीमा दिया जाएगा, जो कैशलेससुविधा होगी। इस योजना का लाभ के लिए आधार होना जरूरी होगा, लेकिन आधार एनरोलमेंट नहीं होने से इस स्कीम का लाभ से किसी को रोका नहीं जाएगा।


और स्टोरीज़ पढ़ें
से...

इससे जुड़ी स्टोरीज़

No items found.
© 2018 YourStory Media Pvt. Ltd. - All Rights Reserved
In partnership with Dept. of Public Relations, Govt. of Chhattisgarh